Friday, July 1, 2022
More
    HomeTrendingED के सामने राहुल की पेशी से पहले कांग्रेस नेताओं में हलचल,...

    ED के सामने राहुल की पेशी से पहले कांग्रेस नेताओं में हलचल, जानिए किसने क्या कहा?

    नई दिल्ली: आज कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की नेशनल हेराल्ड मामले में प्रवर्तन निदेशालय के सामने पेशी होनी है। जी दरअसल कांग्रेस ने इसके विरोध में शक्ति प्रदर्शन की योजना बनाई थी, हालाँकि दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने उनको झटका दे दिया। जी दरअसल राहुल के समर्थन में नारेबाजी करते कई कांग्रेस नेताओं को दिल्ली पुलिस ने हिरासत में लिया है। वहीं कांग्रेस के प्रदर्शन को देखते हुए दिल्ली यातायात पुलिस ने एडवाइजरी जारी करते हुए बताया है कि विशेष यातायात व्यवस्था के कारण नई दिल्ली में गोल डाक खाना जंक्शन, पटेल चौक, विंडसर प्लेस, तीन मूर्ति चौक, पृथ्वीराज रोड से आगे बसों की आवाजाही प्रतिबंधित रहेगी। इसी के साथ इसमें सलाह दी गई है कि गोल मेथी जंक्शन, तुगलक रोड जंक्शन, क्लेरिजेस जंक्शन, क्यू-पॉइंट जंक्शन, सुनहरी मस्जिद जंक्शन, मौलाना आजाद रोड जंक्शन और मान सिंह रोड जंक्शन पर सुबह 7 बजे से दोपहर के 12 बजे के बीच जाने से बचना चाहिए। विशेष इंतजामों के कारण भारी ट्रैफिक की आवाजाही की उम्मीद है।

    आपको यह भी बता दें कि राहुल के ईडी के सामने पेश होने से पहले छत्तीसगढ़ से कांग्रेस नेता टीएस सिंह देव दिल्ली पहुंचे हैं। वहीं राहुल गांधी के ईडी के सामने पेश होने से पहले पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि, ‘राहुल गांधी के नेतृत्व में ‘सत्य का संग्राम’ जारी रहेगा।आजादी की लड़ाई के दौरान अंग्रेज भी कांग्रेस की आवाज को दबा नहीं पाए, फिर यह सत्ताधारी सरकार कैसे दबा सकती है।’ वहीं उनके अलावा पार्टी के अन्य नेता टीएस सिंह देव ने कहा कि ‘कांग्रेस नेता एकजुट रहेंगे। पुलिस का इस्तेमाल अलग मकसद के लिए किया जा रहा है, लेकिन हम अपने काम को आगे बढ़ाते रहेंगे।’

    इसी के साथ कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने कहा कि, ‘हमनें गांधीवादी और शांतिपूर्ण तरीके से एक मार्च निकालने की कोशिश की थी लेकिन दिल्ली में अनुमति नहीं मिली। मुझे लगता है कि ये लोग जिस तरह एजेंसी का दुरुपयोग कर रहे हैं वो जगजाहिर है। सोनिया गांधी, राहुल गांधी और तमाम नेताओं पर 7-8 साल से बंद केस डाले गए हैं।’ इसके अलावा उन्होंने कहा कि, ‘कहीं ना कहीं राजनीतिक विरोधियों पर दबाव बनाने की राजनीति चल रही है। देश में इतने जरूरी मुद्दे हैं, लेकिन अलग विचारधारा के लोगों को दबाने का काम हो रहा है।’

    RELATED ARTICLES
    - Advertisment -

    Most Popular

    Recent Comments