Saturday, December 3, 2022
More
    HomeTrendingउमा भारती ने चलाया शराबबंदी के खिलाफ बोतल तोड़ो अभियान

    उमा भारती ने चलाया शराबबंदी के खिलाफ बोतल तोड़ो अभियान

    भोपाल: मध्य प्रदेश में नशा मुक्ति और शराबबंदी का अभियान चला रहीं भाजपा नेता तथा पूर्व केन्द्रीय मंत्री उमा भारती भोपाल के आजाद नगर स्थित एक शराब की दुकान में घुसीं और पूरी ताकत के साथ पत्थर फेंककर वहां रैक में रखी शराब की कुछ बोतलों को फोड़ दिया. जैसे ही भारती ने पत्थर फेंके, उनके समर्थकों और उनके आसपास के स्थानीय लोगों ने अपने नेता की प्रशंसा करते हुए नारे लगाए. मध्यप्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री भारती ने पिछले साल घोषणा की थी कि वह शराब पर प्रतिबंध लगाने के लिए राज्य में अभियान चलाएंगी.

    भारती ने शराब की दुकान पर पत्थर फेंकने का एक वीडियो अपने ट्विटर हैंडल पर भी डाला है, जिसमें दिख रहा है कि वह कुछ लोगों के साथ एक पत्थर लेकर इस दुकान में जाती हैं. इसके बाद वह वहां रैक में पड़ी शराब की बोतलों पर इस पत्थर को पूरी ताकत के साथ फेंकती है जिससे वहां रखी कुछ शराब की बोतलें टूट जाती हैं. इसके बाद वह वहां से बाहर आ जाती हैं और चली जाती हैं.

    भारती ने इसका वीडियो अपने ट्विटर हैंडल पर अपलोड कर लिखा कि बरखेड़ा पठानी, आजाद नगर, बीएचईएल भोपाल में मजदूरों की बस्ती में शराब की दुकानों की शृंखला है, जो एक बड़े आहाता में लोगों को शराब परोसते हैं.’’ उन्होंने आगे लिखा, ‘‘यह मजदूरों की बस्ती हैं. पास में मंदिर हैं. छोटे बच्चों के स्कूल हैं. जब लड़कियां और महिलायें छतों पर खड़ी होती हैं तो शराब पिये हुए लोगों के कारण उनको लज्जित होना पड़ता है.’’ उन्होंने कहा कि आज उन्होंने प्रशासन को एक हफ्ते के अंदर दुकान और आहाता बंद करने की चेतावनी दी है. इस पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए मध्यप्रदेश कांग्रेस के मीडिया समन्वयक नरेन्द्र सलूजा ने ट्वीट करके कहा कि मध्यप्रदेश में शराबबंदी अभियान शुरू करने की तीन-तीन बार तारीख देकर गायब रहीं प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती अब शराब की दुकान में खुद पत्थर बरसा रही हैं.

    उन्होंने पूछा कि अब क्या उमा भारती पत्थर उठाकर शराबबंदी करवायेंगी? उन्होंने कहा कि एक पूर्व मुख्यमंत्री को अपनी सरकार में यह सब करना पड़े, तो समझा जा सकता है. सलूजा ने ट्वीट किया, ‘‘मध्यप्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा जी, मैं भी मध्यप्रदेश में शराब के विरोध में हूं. जिस तरह से प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती जी ने आज शराब की दुकान का विरोध किया है, वैसा विरोध मैं भी करना चाहता हूं. कृपया अनुमति दीजिये.’’ सलूजा ने कहा कि भारती ने शराब की दुकान पर पत्थर फेंककर प्रदेश की जनता को यह संदेश तो दे दिया है कि शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार में प्रदेश शराबी प्रदेश बन चुका है. उन्होंने कहा कि जगह-जगह खुली शराब की दुकानों से लोग बर्बाद हो रहे हैं, प्रदेश में शराब की दुकानें दोगुनी हो गयी हैं.

    RELATED ARTICLES
    - Advertisment -

    Most Popular

    Recent Comments