Monday, May 16, 2022
More
    HomeTrendingWeather Updates : दिल्ली-एनसीआर के साथ इन राज्यों में होगी बारिश

    Weather Updates : दिल्ली-एनसीआर के साथ इन राज्यों में होगी बारिश

    Weather Updates

    Weather Updates : नई दिल्ली: दिल्ली सहित उत्तर पश्चिम भारत के कई हिस्सों में कल का दिन राहत (Weather Updates) लेकर आया।

    जी दरअसल, पश्चिमी विक्षोभ की वजह से लोगों को चिलचिलाती धूप और लू से राहत मिली, क्योंकि कई जगह बारिश देखने को मिली। वहीँ, भारतीय मौसम विभाग (IMD) का कहना है, 5 मई से हालात एक बार फिर बदलने (Weather News) वाले हैं। 5 मई यानी आज से एक बार फिर लू शुरू होने की संभावना है। इसी के साथ मध्य भारत के लोगों को 5 मई यानी आज से ही लू के थपेड़ों से जूझना होगा। आप सभी को बता दें कि कल यानी 6 मई तक ये उत्तर पश्चिम भारत में फैल जाएगा।

    दिल्ली-एनसीआर में मौसम सुहावना

    वहीँ दिल्ली-एनसीआर समेत कई इलाकों में बीते कल शाम हुई बारिश ने मौसम सुहावना कर दिया। दूसरी तरफ IMD ने आज यानी 5 मई को उत्तर मध्य महाराष्ट्र में अलग-अलग इलाकों में लू चलने की संभावना जताई है। वहीँ आने वाले 8 मई से विदर्भ, राजस्थान, दक्षिण-पश्चिम उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश में लोगों को लू झेलना पड़ेगा। जी दरअसल पश्चिमी विक्षोभ की वजह से बुधवार को दिल्ली के कुछ हिस्सों में गरज के साथ बारिश हुई और तेज हवाएं चलीं और इससे दिल्लीवालों को पिछले दो से तीन हफ्तों से पड़ रही चिलचिलाती और भीषण गर्मी से राहत मिली। हालांकि, उत्तर पश्चिम भारत में भीषण गर्मी की स्थिति और एक कमजोर पश्चिमी विक्षोभ के चलते भी बारिश नहीं हुई।

    30-40 किमी/घंटा की रफ्तार से तेज हवाएं और हल्की से मध्यम तीव्रता की बारिश

    इसके अलावा IMD ने लोनी देहात, हिंडन एयरफोर्स स्टेशन और गाजियाबाद सहित एनसीआर के आसपास के इलाकों में 30-40 किमी/घंटा की रफ्तार से तेज हवाएं और हल्की से मध्यम तीव्रता की बारिश का अनुमान जताया है। आप सभी को बता दें कि मौसम विभाग ने अपने वेदर बुलेटिन में कहा कि, ‘पश्चिमी विक्षोभ की वजह से अगले दो दिनों के दौरान पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में 40-50 किमी प्रति घंटे की रफ्तार के साथ हवाएं चलेंगी।’

    इसी के साथ ही गरज और तेज हवाओं के साथ भारी वर्षा भी हो सकती है। आने वाले 6 से 8 मई तक पश्चिमी राजस्थान और उत्तर-पूर्वी उत्तर प्रदेश में 40-50 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलने का अनुमान है। इसके अलावा IMD भुवनेश्वर के वरिष्ठ वैज्ञानिक उमाशंकर दास का कहना हैअभी तक, हम हवा की गति लगभग 40-50 किमी/घंटा की रफ्तार से 75 किमी/घंटा तक होने की उम्मीद कर रहे हैं।

    अंडमान समुद्री क्षेत्र और बंगाल की दक्षिण-पूर्वी खाड़ी में न जाएं

    मछुआरों को सलाह दी जाती है कि वे अंडमान समुद्री क्षेत्र और बंगाल की दक्षिण-पूर्वी खाड़ी में न जाएं। 6 मई के आसपास दक्षिण अंडमान सागर और उसके आस-पास एक कम दबाव का क्षेत्र बन जाएगा और इसके बाद निम्न दबाव का क्षेत्र उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ेगा और 48 घंटे के बाद गहरे दबाव में बदल जाएगा। वहीं यह भी कहा गया है अगले चार दिनों के दौरान बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल और सिक्किम और ओडिशा में भी बारिश की भविष्यवाणी की गई है।

    RELATED ARTICLES
    - Advertisment -

    Most Popular

    Recent Comments