Monday, October 3, 2022
More
    Homeअन्तर्राष्ट्रीयकनाडा के प्रदर्शनकारियों का समर्थन जारी रखेगा अमेरिकी काफिला

    कनाडा के प्रदर्शनकारियों का समर्थन जारी रखेगा अमेरिकी काफिला

    वाशिंगटन। कॉन्वॉय टू सेव अमेरिका के सह -संस्थापक पेनी फे ने कहा है कि कनाडा के ट्रक ड्राइवरों को भोजन, पानी, कंबल और गैस कार्ड सहित आपूर्ति करने वाले मिनीवैन, स्पोर्ट यूटिलिटी वाहनों और अन्य ऑटोमोबाइल का अमेरिकी काफिला उनकी यात्रा का पहला चरण था। उन्होंने कहा कि अमेरिकी काफिला कनाडा के प्रदर्शनकारियों का समर्थन जारी रखेगा। इस सप्ताह की शुरुआत में कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने टीकाकरण विरोधी अभियानों पर नकेल कसने के लिए आपातकालीन शक्तियों का आह्वान किया था।

    इस बीच गुरुवार को ओटावा के पुलिस प्रमुख ने कहा कि कानून प्रवर्तन, प्रदर्शनकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए तैयारी कर रहा था। उन्होंने कहा,“यात्रा के पहले चरण में कनाडा में ट्रक ड्राइवरों के लिए आपूर्ति लाना था। दूसरा चरण ट्रक ड्राइवरों को मुक्त करेगा। हम बफालो में पीस ब्रिज तक गए, लेकिन हमें रोक दिया गया। न्यूयॉर्क के गवर्नर कैथी होचुल ने हमें रोक दिया। सब कुछ बिना किसी रोक-टोक के चल रहा था। हमेशा की तरह, एकमात्र अड़चन सरकार थी।”
    श्री पेनी ने कहा कि ट्रूडो के आदेश ने ‘गो फंड मी’ और अन्य साइटों के माध्यम से जुटाए गए लाखों डॉलर के हस्तांतरण को रोक दिया। लेकिन वह (श्री पेनी) अडिग हैं और ट्रक ड्राइवरों और अन्य लोगों का समर्थन करना जारी रखेंगी जो अपनी आजादी के लिए लड़ रहे हैं।

    उन्होंने कहा, “यह भयावह है। उन्होंने कई खातों पर पकड़ बना ली है। मुझे नहीं पता कि आगे क्या होगा। मुझे नहीं पता कि यह ट्रक ड्राइवरों को कैसे प्रभावित करेगा। मैं समझताी हूं कि हैकर्स ने एख खाता खोला था। मुझे नहीं पता यह हैकर था या था यह सरकार?” उल्लेखनीय है कि कनाडा के ट्रक ड्राइवरों ने अब तक लगभग 90 लाख डॉलर जुटाए हैं।
    कनाडा के ग्लोब एंड मेल ने बताया कि पिछले गुरुवार को कनाडा के सुपीरियर कोर्ट ऑफ जस्टिस ने फ्रीडम कॉन्वॉय 2022 के आयोजकों और एडॉप्ट-ए-ट्रकर को दान करने से रोकने का आदेश जारी किया था।

    श्री पेनी फे ने कहा,“मैं मूल रूप से न्यूयॉर्क से हूं और मैं पिछले तीन वर्षों से टेनेसी में रहती हूं। हमारे पास ये सभी स्वतंत्रताएं हैं। मुझे नहीं पता था कि मैंने स्वतंत्रताएं खो दी हैं। यह प्रदर्शन टीकों को लेकर नहीं है। यह इस सरकार के नियमों, लॉकडाउन, मांगों को लेकर हो रहे हैं … हम सभी स्वतंत्रता चाहते हैं।”
    उन्होंने कहा, “उनकी वाशिंगटन डीसी जाने की कोई इच्छा नहीं है,। हमारके बीच कुछ मतभेद हैं, लेकिन हमारे बीच मतभेदों से कहीं अधिक समानता है। मैं चाहती हूं कि हम एकजुट हों, ह अमेरिकी देशभक्तों के साथ एक जमीनी प्रयास था। हम सभी स्वतंत्रता चाहते हैं।”

    RELATED ARTICLES
    - Advertisment -

    Most Popular

    Recent Comments