Thursday, August 11, 2022
More
    Homeउत्तर प्रदेशSachivalaya UP : नौकरी के नाम पर ठगे 2.69 करोड़

    Sachivalaya UP : नौकरी के नाम पर ठगे 2.69 करोड़

    Sachivalaya UP 

    Sachivalaya UP : सचिवालय व अन्य सरकारी विभागों में नौकरी दिलवाने का झांसा देकर जालसाजों ने कई वेरोजगारों से 2 करोड़ 69 लाख 75 हजार रुपये ठग लिए। पीड़ितों के रुपये वापस करने की वात कहने पर आरोपितों ने उन्हें शांत रहने की धमकी दी। एक पीड़ित ने हजरतगंज कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज करवाई है। 

    पीड़ित शम्भू कुमार गुप्ता ने पुलिस को बताया कि वह प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहा है। अयोध्या निवासी अब्दुल जलील की जिम में कमल पंडित नाम के व्यक्ति से मुलाकात हुई। उसने सचिवालय में कम्प्यूटर ऑपरेटर की नौकरी दिलवाने का झांसा दिया। उसने दावा किया कि वह कई लोगों की नौकरी लगवा चुका है। इसके वाद वाद उसने शम्भू और अब्दुल की मुलाकात दारुलशफा में असगर खां नाम के व्यक्ति से करवाई। असगर खां ने सचिवालय, रेलवे, एम्स, इनकम टैक्स व अन्य सरकारी विभागों में नौकरी दिलवाने का झांसा दिया और कई लोगों के नियुक्ति पत्र भी दिखाए। जालसाजों ने सचिवालय में कम्प्यूटर ऑपरेटर की नौकरी लगवाने के लिए प्रति व्यक्ति 16 लाख रुपये लगने की बात कही।

    यहाँ पढ़े : Debt-Laden : कर्ज से लदे परिवार के पांच सदस्यों ने की खुदकशी

    डेढ़ महीने बाद जॉइन करने को कहा

    पीड़ितों ने अपने शैक्षणिक दस्तावेज व कुछ रुपये आरोपितों को दे दिए। जालसाज ने शम्भु को 19 अगस्त 2019 को सचिवालय के गेट नंवर9 पर बुलाया और कहा कि आधार कार्ड लेकर अंदर चले जाओ। वहां पास मिल जाएगा। पास मिलने के बाद जालसाज ने पीड़ित से कहा कि 6 महीने संविदा पर काम करना होगा, इसके बाद नौकरी पक्की हो जाएगी। पीड़ित ने आरोपितों को 16 लाख रुपये दे दिए। उसे जॉइन करने के लिए डेढ़ महीने के बाद का समय दिया गया था। पीड़ित और अब्दुल का नियुक्ति पत्र और सचिवालय पास देखकर उनके परिचित भी प्रभावित हुए। उन लोगों ने नौकरी लगवाने के लिए कहा। उनके कई परिचितों और रिश्तेदारों ने जालसाजों से नौकरी के लिए संपर्क किया। पीड़ितों ने नौकरी लगवाने के लिए 2 करोड़ 69 लाख 76 हजार रुपये आरोपितों को दिए। आरोपितों ने पीड़ितों को फर्जी नियुक्ति पत्र थमा दिए। जब नौकरी वाली जगह पर पहुंचे तो नियुक्ति पत्र फर्जी होने का पता चला। उगी का अहसास होने पर पीड़ितों ने रुपये वापस मांगे तो आरोपितों ने इनकार कर दिया। अब पीड़ितों ने देवरिया निवासी असगर खां, आजमगढ़ निवासी सुवेदार राव, अरविन्द मिश्रा उर्फ प्रवेश मिश्रा, फैजी, विशाल, सैफी व गांड के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करवाई है।

    आधार अपडेट का झांसा देकर ठगा 

    राजाजीपुरम : तालकटोरा में जालसाजों ने आधार कार्ड अपडेट करने का लिंक भेज कर एक व्यक्ति के खाते से 25 हजार रुपये उड़ा लिए। आलमनगर वादशाह खेड़ा निवासी अरुण कुमार दुवे का एसवीआई की जवाहर भवन शाखा में वचत खाता है। अरुण कुमार दुवे के मोवाइल फोन पर मेसेज आया, जिसमें आधार कार्ड अपडेट करने की बात लिखी थी। मेसेज के साथ एक लिंक दिया था। अरुण ने लिंक पर क्लिक किया तो उनके फोन पर ओटीपी आया। ओटीपी अपडेट करते ही उनके खाते से 24,998 रुपये कट गए। घटना को लेकर अरुण ने तालकटोरा थाना में मामला दर्ज करवाया है।

    यहाँ पढ़े : Explosion : पटना सिविल कोर्ट परिसर में विस्फोट, कई घायल

    अस्पताल मालिक समेत चार पर फ्रॉड का केस

    गुडम्बा: गुडम्वा के जगरानी हॉस्पिटल मालिक डॉ. प्रवीण कुमार, प्रबंधक कंचन द्विवेदी, गैस प्लांट इंचार्ज आशीष कुमार व धर्मेंद्र पर पुलिस ने धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज की है। एसए मेडिकल गैसेज ऑफिस विकास भवन रोड, गायत्री नगर, वारावंकी निवासी सुरेश दत्त पांडेय के अनुसार 21 मई 2021 को उन्होंने 56 जम्बो एन20 टाइप ऑक्सिजन सिलिंडरों को जगरानी हॉस्पिटल में सप्लाई किया था। इनमें से 32 सिलिंडर उन्हें वापस हो गए। 24 ऑक्सिजन सिलिंडर वापस न मिलने पर उन्होंने पुलिस कमिश्नर लखनऊ से शिकायत की। इसके बाद दो वार गुडंवा पुलिस ने जगरानी हॉस्पिटल के सीसीटीवी फुटेज व रेकॉर्ड चेक किए। आरोप है कि इस छानवीन के बाद भी पुलिस ने न तो रिपोर्ट दर्ज की और ना ही कोई कार्रवाई की। शुक्रवार को सुरेश ने डीसीपी उत्तरी से शिकायत की, जिसके बाद गुडंवा पुलिस ने जगरानी हॉस्पिटल मालिक डॉ. प्रवीण कुमार, प्रबंधक कंचन द्विवेदी, गैस प्लांट इंचार्ज आशीष कुमार व धर्मेंद्र कुमार पर धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज की है।

    Sachivalaya UP Sachivalaya UP


    ई-पेपर :http://www.divyasandesh.com

    RELATED ARTICLES
    - Advertisment -

    Most Popular

    Recent Comments