Tuesday, October 4, 2022
More
    HomeTrendingअडानी ग्रुप ने दिया 1913 करोड़ का प्रस्ताव, अब इस कंपनी को...

    अडानी ग्रुप ने दिया 1913 करोड़ का प्रस्ताव, अब इस कंपनी को करेगा ‘टेक-ओवर’

    सिंगरौली: अडानी ट्रांसमिशन लिमिटेड ने मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ को जोड़ने वाली अपनी एक ट्रांसमिशन लाइन एस्सार पावर के साथ डील की है। अडानी ट्रांसमिशन लिमिटेड (Adani Transmission Ltd) ने एस्सार पावर लिमिटेड (Essar Power) के दो पावर ट्रांसमिशन प्रोजेक्ट में से एक को 1,913 करोड़ रुपये में खरीदने की डील की है। एस्सार पावर काफी ज़्यादा कर्ज़े में है तो उन्हें बैंक का कर्ज़ा उतरने के लिए ट्रांस्मिशन लाइन बेचनी पद रही। यह एक परिचालन 400 केवी अंतरराज्यीय ट्रांसमिशन लाइन है जो महान (मध्य प्रदेश) को सीपत (छत्तीसगढ़) से जोड़ती है।

    अडानी ट्रांसमिशन लिमिटेड के MD और CEO अनिल सरदाना ने कहा कि एस्सार की संपत्ति का अधिग्रहण मध्य भारत में ATL की उपस्थिति को मजबूत करेगा। इस अधिग्रहण के साथ, ATL समय से पहले अपने 20,000 CKT किलोमीटर लक्ष्य को पूरा कर लेगा। उन्‍होंने कहा कि ग्रिड स्थिरता के मामले में अडानी ट्रांसमिशन लिमिटेड सबसे आगे बना हुआ है। गौरतलब कि बात यह है की परियोजना केंद्रीय विद्युत नियामक आयोग (सीईआरसी) द्वारा विनियमित रिटर्न ढांचे के तहत संचालित होती है और इसे 22 सितंबर 2018 को चालू किया गया था।

    ATL का मन्ना है के वह अधिग्रहण 19,468 खत किलोमीटर तक फैलाना चाहता है। परिचालन और 4,516 CKT किलोमीटर भी प्रगति में है। कंपनी का मानना है की इस अधिग्रहण से कंपनी को बहुत फायदा हो सकता है।

    एस्सार पावर ने शुक्रवार को जारी एक बयान में अपने आगे की योजना बताई और कहा कि वह अपने दो पावर ट्रांसमिशन प्रोजेक्ट में से एक को 1,913 करोड़ रुपये में बेचने के लिए अडानी ट्रांसमिशन लिमिटेड के साथ एक निश्चित समझौता किया है। उन्होंने अपने बयान में यह भी बताया है की कंपनी ने 30,000 करोड़ के क़र्ज़ को घटा कर 6000 करोड़ कर दिया है।

    RELATED ARTICLES
    - Advertisment -

    Most Popular

    Recent Comments