Wednesday, May 18, 2022
More
    Homeउत्तर प्रदेशकार ने स्कूटी में मारी टक्कर,मासूम की मौत,पिता व ठेकेदार घायल

    कार ने स्कूटी में मारी टक्कर,मासूम की मौत,पिता व ठेकेदार घायल

    मोहनलालगंज। निगोहाॅ थाना क्षेत्र के मस्तीपुर गांव में शुक्रवार की शाम हाइवे पर बने कट से अचानक मुड़ी स्कूटी में लखनऊ से रायबरेली जा रही तेज रफ्तार अज्ञात कार ने जोरदार टक्कर मार दी,टक्कर इतनी जोरदार थी कि स्कूटी छिटककर दूर जा गिरी ओर उसमें आगे खड़े मासूम को रौंदते हुये चालक कार सहित मौके से भाग निकला‌‌।दुर्घटना में मासूम की मौके पर मौत हो गयी जब कि स्कूटी चला रहा ठेकेदार व पिता घायल हो गया।सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस दोनो घायलो को एम्बुलेंस से इलाज के लिये सीएचसी लेकर गयी,जहां मौजूद डाक्टर ने ठेकेदार की हालत गम्भीर देख ट्रामा सेंटर रिफर करने के साथ घायल पिता को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी।पुलिस ने मृतक मासूम के शव को कब्जे में लेकर पंचनामा भरकर पीएम के लिये भेजा।वही इकलौते बेटे की मौत से घर में में कोहराम मच गया।

    इंस्पेक्टर जीतेन्द्र प्रताप सिहं ने बताया

    innocent killed,

    निगोहां के मस्तीपुर गांव में लक्ष्मी नारायण अपनी पत्नी गीता व बेटे अरमान(6वर्ष) व बेटी महिमा के साथ रहता है,लक्ष्मी नारायण प्लाबरिगं का काम करता है,शुक्रवार को उसके घर ठेकेदार चेतराम निवासी पकरी का पुल,लखनऊ अपनी स्कूटी से उसके घर आया था,जिसके बाद वो ठेकेदार के साथ उसकी स्कूटी में बैठकर मासूम बेटे को कपड़े दिलाने के लिये निगोहा बाजार लेकर गया,जहां कपड़े दिलाने के बाद वापस घर लौट रहा था, गांव के बाहर बने रेस्टोरेंट के पास बने कट से गांव जाने के लिये ठेकेदार चेतराम ने स्कूटी मोड़ी तभी लखनऊ से रायबरेली की तरफ जा रही तेज रफ्तार अज्ञात कार ने स्कूटी में सामने से जोरदार टक्कर मार दी,टक्कर इतनी जोरदार थी कि स्कूटी सहित सभी छिटककर दूर जा गिरे,जिसके बाद कार मासूम को रौंदता हुये मौके से भाग निकली।वही दुर्घटना में ठेकेदार चेतराम व पिता लक्ष्मी नारायण घायल हो गया,जिन्हे सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस इलाज के लिये एम्बुलेंस से सीएचसी लेकर गयी,जहां इमरजेंसी में मौजूद डाक्टर ने ठेकेदार की हालत गम्भीर देख ट्रामा सेंटर रिफर करने के साथ ही घायल पिता को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी‌‌।इंस्पेक्टर जीतेन्द्र प्रताप सिहं ने बताया मृतक मासूम के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेजने के साथ ही दुर्घटना करने वाली कार की तलाश शुरू कर दी गयी है।

    इकलौते बेटे की मौत से घर में मचा कोहराम…

    बड़े बेटे शिवम की चार साल पहले लीवर कैसर से हुयी मौत का गम लक्ष्मी नारायण व उसकी पत्नी गीता भूला भी नही पायी थी कि शुक्रवार को परिवार पर एक बार फिर दुखो का पहाड़ टूट पड़ा,दुर्घटना में मृतक इकलौते बेटे अरमान का शव घर पहुंचा तो कोहराम मच गया,पिता लक्ष्मी नारायण व मां गीता सहित बहन महिमा का रो-रो कर बुरा हाल था,पिता बेटे के शव से लिपटकर चीख पड़ा।मौके पर मौजूद परिवार का करूणा क्रंदन देख मौके पर मौजूद ग्रामीणो की आंखो से आंसू छलक पड़े।

    RELATED ARTICLES
    - Advertisment -

    Most Popular

    Recent Comments