Monday, September 26, 2022
More
    HomeTrendingअयोध्या की मलिन बस्ती में आज सहभोज करेगें योगी आदित्यनाथ

    अयोध्या की मलिन बस्ती में आज सहभोज करेगें योगी आदित्यनाथ

    CM Yogi Ayodhya: अपने तीन दिवसीय उत्तराखंड दौरे के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज अयोध्या में रामलला और हनुमनगढी के दर्शन करेगें। इसके बाद वह पूरे दिन विकास कार्यो के अलावा अन्य कार्यक्रमों में हिस्सा लेगें।

    मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पूर्वान्ह 10 बजकर 55 मिनट पर हनुमान गढी के दर्शन करने के बाद फिर श्री रामजन्मभूमि के दर्शन करेंगे। इसके बाद 11 बजकर 35 मिनट पर अयोध्या मंडल के विकास कार्यो एवं कानून व्यवस्था के सम्बन्ध में बैठक करेंगें। इस दौरान उन्हे अयोध्या के विजन डॉक्यूमेंट का प्रस्तुतिकरण किया जाएगा।

    मलिन बस्ती वाले लोगों के साथ भोजन करेगें

    मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अयोध्या मंडल के विकास कार्यो की समीक्षा बैठक के बाद 12 बजकर 35 मिनट पर मलिन बस्ती में गरीब और कमजोर लोगों के साथ भोजन करेगें। इसके बाद वह मंत्री समूह के साथ विकास कार्यो का स्थलीय निरीक्षण करेंगे। शाम चार बजे गुप्तार घाट में नवनिर्मित महाराणा प्रताप की मूर्ति का अनावरण करेगें। इसके बाद शाम पांच बजकर 15 मिनट पर मुख्यमंत्री योगी सर्किट हाउस में संतजनो से मुलाकात करेगें।

    उल्लेखनीय है कि एक महीने पहले चार अप्रैल को भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या जाकर वहां विकास कार्याे का जायजा लिया था।

    रामायण विश्वविद्यालय की स्थापना के लिए अयोध्या में 21 एकड़ भूमि चिह्नित

    मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का रामनगरी अयोध्या में बन रहे भव्य राम मंदिर के आसपास विकास पर विशेष फोकस है। अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के साथ ही यहां पर रामायण विश्वविद्यालय भी बनने जा रहा है। यहां पर विशेष सुरक्षा बल की उठी वाहिनी की स्थापना भी की जाएगी।

    रामायण विश्वविद्यालय की स्थापना के लिए अयोध्या में 21 एकड़ भूमि चिह्नित कर ली गयी है। जबकि अयोध्या शोध संस्थान पर भी काम चल रहा है। पिछले दिनों यहां एक बडा कार्यक्रम भी आयोजित किया गया था।

    पिछले दिनों मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 100 दिनों को दिए गए विभागीय एजेंडे में अयोध्या को विशेष प्राथमिकता देने की बात कही है।

    यूपी के सभी धर्मस्थलों का विकास होना चाहिए

    योगी आदित्यनाथ का मानना है कि राम कृष्ण और शिव के गरिमा वाले उत्तर प्रदेश के सभी धर्मस्थलों का विकास होना चाहिए। इससे धर्म को तो बढावा मिलता ही है। साथ ही पर्यटन को भी बढावा मिलता है। उन्होंने कहा कि मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट, अयोध्या के विकास की प्रक्रिया में तेजी लायी जाए। उन्होंने कहा कि अयोध्या धाम में निर्माणाधीन श्रीराम मंदिर को हाइड्रोजन फ्यूल सेल्स के माध्यम से ऊर्जीकरण करने का अभिनव प्रयास किया जाना चाहिए।

    Read More : जल्द मिलेगी आंधी और बौछारों के साथ गर्मी से राहत : मौसम विभाग

    Read E-Paper : Divya Sandesh

    RELATED ARTICLES
    - Advertisment -

    Most Popular

    Recent Comments