Monday, October 3, 2022
More
    Homeउत्तर प्रदेशweather today : आंधी पानी ने तपिश से दिलायी राहत,फसलों पर आफत

    weather today : आंधी पानी ने तपिश से दिलायी राहत,फसलों पर आफत

    weather today : लखनऊ। प्रचंड गर्मी का सामना कर रहे उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में बुधवार को तेज रफ्तार आंधी,बौछार और ओलावृष्टि से तपिश से तो मामूली राहत मिली मगर फसल के व्यापक नुकसान ने किसानो और बागवानों के चेहरे की रंगत उड़ा दी। इस दौरान बिजली गिरने से एक किसान की मौत हो गयी।

    मथुरा,शामली,एटा,अलीगढ़,कानपुर और लखनऊ समेत प्रदेश के पश्चिम और मध्य इलाकों में सुबह से ही मौसम का मिजाज बदला बदला सा था। सुबह के समय तेज रफ्तार हवाओं ने गर्मी से राहत दिलायी मगर दोपहर होते होते कई इलाकों में आंधी और बारिश ने कहर बरपाना शुरू कर दिया। इस बीच ओलावृष्टि से नुकसान की बची खुची कसर भी पूरी कर दी।

    यहाँ पढ़े: Weather Updates : दिल्ली-एनसीआर के साथ इन राज्यों में होगी बारिश

    आम के बगीचों में कच्चे आम का अंबार लग गया वहीं लीची की फसल को भी व्यापक नुकसान पहुंचा। साग सब्जियों पर भी मौसम की मार का असर पड़ा और किसानो के चेहरे मुरझा गये। आंधी बारिश से कई इलाकों की बत्ती गुल हो गयी। तार टूटने की घटनाओं के चलते देर शाम तक कई इलाके अंधेरे में डूबे हुये थे। आंधी पानी से कई पेड़ धराशायी हो गये वहीं अनेक स्थानो पर बिजली के खंभे 45 डिग्री के कोण पर झुके हुये थे।

    मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों में पश्चिमी और पूर्वी इलाकों में आंधी बारिश का अनुमान जताया है। (weather today) इस दौरान इक्का दुक्का स्थानों पर ओलावृष्टि के आसार हैं। मथुरा से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार बारिश और ओला वृष्टि से फसल और सब्जी बोनेवाले किसानों का बहुत अधिक नुकसान हुआ है। बल्देव क्षेत्र के विधायक पूरन प्रकाश ने बताया कि उनके क्षेत्र के राया ब्लाक के एक दर्जन से अधिक गांवों में किसानों की मूंग, जानवरों के चारे एवं सब्जियों का नुकसान हुआ है। वर्तमान में किसान मूंग साठा बोते हैं जो दो महीने में ही अच्छी उपज दे देती है। ओलों से मूंग की फसल चौपट हो गई है। महाबन तहसील के एसडीएम से टीमों को भेजकर सही नुकसान का पता करने को कहा गया है जिससे पीड़ित किसानों को जल्दी से जल्दी मुआबजा मिल सके।

    शामली में झमाझम बारिश से जलमग्न हुए शहर में आम जनजीवन काे अस्तव्यस्त कर दिया। इलाके में आम और लीची की फसल को भी खासा नुकसान हुआ है। मौसम के बदले मिजाज के कारण शहर में बिजली आपूर्ति भी ठप्प हो गयी। तेज बारिश होने से शहर में कई जगह जलभराव का संकट भी उत्पन्न हो गया। इस दौरान चली तेज हवाओं के कारण कई जगह बोर्ड उखड़ गए, कई जगह पेड़ टूटने और विद्युत तारों को भी काफी नुकसान पहुंचने की प्रशासन से जानकारी मिली है।

    एटा में आंधी बारिश ने जमकर तांडव किया। (weather today) तहसील क्षेत्र के कवार गाँव मे खेत मे काम कर रहे किसान महेन्द्र (55) की बिजली गिरने से मौत हो गयी। तहसीलदार चंद्र किशोर सिंह के अनुसार मृतक के परिजनों को दैवीय आपदा के तहत शासन के निर्देश के अनुसार चार लाख रुपये की सहायता राशि दी जाएगी।


    यहाँ पढ़े:ipl auction 2022 : गेंदबाजों ने बेंगलुरु को दिलाई जीत, चेन्नई लगभग बाहर

    ई-पेपर:http://www.divyasandesh.com

    RELATED ARTICLES
    - Advertisment -

    Most Popular

    Recent Comments